ये 10 नौकरियाँ जो अब हो जायेंगी गायब। Disadvantages of AI

Disadvantages of AI
Disadvantages of AI

Disadvantages of AI पर विचार करने का समय आ गया है क्योंकि इससे आने वाले बदलाव दिखना शुरू हो चुका है सड़क पर ड्राइवरलेस बैटरी ऑपरेटेड कारों की संख्या बढ़ रही है और फ्यूल powered कारों की संख्या घट रही है। इस वजह से ड्राइवर और पेट्रोल पंप पर काम करने वाले कर्मचारी की बहाली भी काम हो रही है। इसीलिए इस मसले पर विचार करना जरूरी है।

आज के जमाने मे AI का सैलाबसा आ गया है। आज AI वो सब बङी तेजी से कर रहा जो आम लोगों के बस के बाहर की बात है। जैसे की 10 सेकेंड्स मे पैन्टींग बना देना। काल्पनीक कहानियों की रचना करना। नये गाने का बोल लिखना। म्युजिक बनाना और भी बहुत सारा काम। जिसके लिये लोगो की |

ChatGPT और Bard जैसे आई आज अपनी कार्य क्षमता के लिए प्रसिद्ध है आप चाहे तो स्वयं इन्हें आजमा कर देख ले।

AI (Artificial Intelligence) ने हमारे समय की रफ़्तार को बदल दिया है और इसका असर नौकरीयों पर भी हो रहा है। जबकि इसके साथ कुछ नौकरियाँ बढ़ रही हैं, वहीं कुछ नौकरियाँ हो रही हैं अनवांछित। इस लेख में, हम जानेंगे कौन-कौन सी नौकरियाँ हैं जो भविष्य में AI के कारण गायब हो सकती हैं।

Disadvantages of AI
Disadvantages of AI

Disadvantages of AI: क्लर्क और डाटा एंट्री ऑपरेटर जोब्स होगें गायब:

AI ने कागजों पर डेटा एंट्री के काम को बहुत तेज़ और अक्षमता से करने की क्षमता दिखाई है, जिससे क्लर्कों और डेटा एंट्री ऑपरेटर्स की आवश्यकता कम हो सकती है।

Disadvantages of AI: बैंक कर्मचारी भी गायब

ऑटोमेटेड बैंकिंग सेवाएं और एटीएम के सुधारने से, बैंकों में विभिन्न कार्यों की जरुरत कम हो सकती है और इससे कर्मचारियों की संख्या घट सकती है।

Disadvantages of AI: मैन्युअल टेस्टिंग अनुसंधानकर्ता गायब

सॉफ्टवेयर टेस्टिंग में AI का इस्तेमाल बढ़ रहा है जिससे मैन्युअल टेस्टिंग की जरुरत कम हो रही है, और इसके परिणामस्वरूप इस नौकरी की मांग में कमी हो सकती है।

व्यापारिक सहायक:

पारिक सहायकों के कार्यों को स्वचालित करने के लिए AI आधारित उपकरणों का इस्तेमाल किया जा रहा है, जिससे इस नौकरी की आवश्यकता में घटना संभावना है।

संगणक नेतृत्व और व्यवस्थापन:

AI के विकास से नेतृत्व और व्यवस्थापन के क्षेत्र में विभिन्न कार्यों की आपूर्ति में वृद्धि हो सकती है, जिससे यह नौकरी गायब हो सकती है।

सार्वजनिक संबंध अधिकारी:

सामाजिक मीडिया और अन्य साधनों से प्राप्त जानकारी को सौंपने के लिए AI उपयोग किया जा रहा है, जिससे सार्वजनिक संबंध अधिकारियों की जरुरत कम हो सकती है।

चिकित्सकीय ट्रांस्क्रिप्शनिस्ट:

AI द्वारा विकसित टेक्स्ट टू स्पीच तकनीक ने चिकित्सकीय ट्रांस्क्रिप्शनिस्ट की आवश्यकता को कम कर दिया है, जिससे इस नौकरी की मांग में कमी हो सकती है।

भूगर्भ विज्ञानी:

AI और सबसे तेजी से बदलती तकनीक ने भूगर्भ विज्ञानियों की आवश्यकता को कम कर दिया है, क्योंकि उन्हें अब इस क्षेत्र में कार्य करने के लिए उपयुक्त उपकरण उपलब्ध हैं।

टेलीमार्केटिंग अधिकारी:

AI द्वारा स्वचालित किए जाने वाले टेलीमार्केटिंग प्रणालियों के कारण, मानव अधिकारियों की आवश्यकता में कमी हो सकती है।

वाणिज्यिक पायलट:

ड्रोन और स्वचालित वाहनों के विकसन से वाणिज्यिक पायलटों की जरुरत कम हो सकती है, क्योंकि इन उपकरणों को ऑटोमेटेड तरीके से पायलट किया जा सकता है।

इस प्रकार, AI की तेजी से बढ़ती तकनीक ने कुछ नौकरियों को भविष्य में गायब होने की संभावना दिखाई है। हमें यह सुनिश्चित करना होगा कि हम इस तकनीकी परिवर्तन के साथ कदम से कदम मिलाकर चल सकते हैं ताकि नई नौकरियों का सृजन हो और लोगों को नए क्षेत्रों में रोजगार मिल सके।

Read More

सबसे Best Google Bard AI: 100% संमपुर्न जानकारी | कैसे करे उपयोग

Google Gemini AI: 100% Best संपूर्ण जानकारी

KOHLER MING LED Mirror: नए और मॉडर्न युग का आईना

AUTHER:
Raushan Kumar Avatar

One response to “ये 10 नौकरियाँ जो अब हो जायेंगी गायब। Disadvantages of AI”

  1. […] ये 10 नौकरियाँ जो अब हो जायेंगी गायब। Disadv… […]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »